आई.आर.सी.आई गवर्निंग बोर्ड की दूसरी बैठक

गवर्निंग बोर्ड की दूसरी बैठक क्योटो में अक्टूबर 21, 2013 को आयोजित की गई थी।यूनेस्को और यूनेस्को के दो सदस्य राज्यों की सरकारों के प्रतिनिधियों ने 9 बोर्ड के सदस्यों के साथ भाग लिया।इसके अतिरिक्त विदेश मामलों के मंत्रालय, सांस्कृतिक विरासत के लिए राष्ट्रीय संस्थान से पर्यवेक्षक के रूप में शामिल हुए।

आई.आर.सी.आई के मध्यम अवधि के कार्यक्रम, परियोजनाओं, बजट पर मुख्य रूप से चर्चा की गई और मंजूरी डी गई, निम्न विषयों के साथ में ही;

सलाहकार निकाय के सुधार
गहरे ज्ञान के पूरे उपयोग के एक उद्देश्य के साथ, सदस्य की सीमा में वृद्धि की गई थी और भारत और फिजी जैसे एशिया-प्रशांत क्षेत्र के व्यापक हिस्सों से विशेषज्ञों को सलाहकार निकाय के नए सदस्य के रूप में नियुक्त किया गया था।

गतिविधियों और वित्तीय बयान पर रिपोर्ट
वित्तीय वर्ष 2012 के अंत तक आई.आर.सी.आई के उद्घाटन से गतिविधियों और वित्तीय बयान की समीक्षा की गई और मंजूर किया गया।

आई.आर.सी.आई के मध्यम अवधि के कार्यक्रम
एक नया मध्यम अवधि का कार्यक्रम, पूरी तरह से यूनेस्को की मध्यम अवधि की रणनीति के साथ स्वीकार किया गया, तैयार किया गया था।

वित्तीय वर्ष 2013-2014 के लिए कार्य योजना और बजट
अगले दो से तीन साल में आयोजित की जाने वाली परियोजनाओं की प्राथमिकता वाले क्षेत्रों को एशिया-प्रशांत क्षेत्र में लुप्तप्राय आई.सी.एच की सुरक्षा के लिए अनुसंधान के रूप में, और बताये गये क्षेत्र में आई.सी.एच की सुरक्षा पर अध्ययन का मानचित्रण करने के लिए निर्धारित किये गये थे।इन दो प्राथमिकता वाले क्षेत्रों में परिणाम हासिल करने के लिए सात परियोजनाओं को स्थापित किया जाएगा।